September 24, 2021

परिवहन विभाग ने 1800 ड्राइविंग लाइसेंस और पंजीयन प्रमाण पत्र पहुंचाए आवेदकों के घर

छत्तीसगढ़ सरकार की ‘तुंहर सरकार, तुंहर द्वार’ को साकार करते हुए परिवहन विभाग ने 1 जून से ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र को आवेदकों के घर पर पहुंचाने का काम शुरू किया है. योजना के प्रारंभ होने से प्रदेश के लोगों को विभाग की 22 से भी अधिक सेवाएं घर बैठे प्राप्त होंगी.

इस योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दिशा-निर्देश में परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर के कुशल नेतृत्व में किया गया. अब आवेदकों को अपने ड्राइविंग लाइसेंस अथवा पंजीयन प्रमाण पत्र को लेने के लिए परिवहन कार्यालयों का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा. इस सेवा को और अधिक सुलभ बनाने हेल्पलाइन नंबर 7580808030 जारी किया गया है, जो सभी कार्य दिवसों में प्रातः 10 बजे से शाम 05.30 बजे तक कार्य करते हुए जानकारी प्रदान करता है.आवेदक चाही गयी जानकारी ईमेल आईडी cgparivahandispatch@gmail.com पर भी अपनी मेल भेजकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. उक्त नंबर पर फ़ोन करके आवेदक अपने ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र के प्रेषण संबंधी समस्त जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. अभी औसतन 120-130 कॉल्स आ रहे हैं, जिसमें मुख्य रूप से परिवहन कार्यालय पुनः शुरू होने का समय, ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रक्रिया, टैक्स एवं फीस सम्बन्धी जानकारी प्राप्त कर रहे हैं.

केंद्रीकृत स्मार्ट कार्ड प्रिंटिंग एवं भारतीय डाक के माध्यम से डिस्पैच व्यवस्था से अब तक लगभग 1806 पंजीयन प्रमाण पत्र भारतीय डाक के माध्यम से आवेदकों के पते पर प्रेषित किये जा चुके हैं, जिसमें से केवल 1 पंजीयन प्रमाण पत्र आवेदक के घर पर न होने के कारण वापस आया है, बाकी सभी सुरक्षित रूप से आवेदक के घर पर पहुंचा दिए गए हैं.