दमदार हैं ‘शेरशाह’ के डायलॉग्स, सिद्धार्थ मल्होत्रे का अंदाज़ धुरंधर- ये दिले ️️️️️️️️️️️

‘एक फौजी के रुतबे से कोई और रुतबा’,
वर्दी की शान से बड़ी हुई और शान नहीं,
अपने देश से बड़ा कोई धर्म नहीं’

सिद्धार्थ मल्होत्रा ​​के इन दमदार डायलॉग्स के साथ शुरू है फिल्म बहादुर का ब्रहम… सिद्धार्थ मल्होत्रा ​​​​बादशाह बने हैं।.. . . . . . . . . . . से लेकर सत्याग्रही हैं। . . . . . . . . . . . . से. तो हैं ही । . . . . . . . . . . . . आते हैं।”’ . . . . . . . . . . . . . से लगते हैं । । शेरा धुरंधर गुण बैटर की गुणवत्ता में सुधार कर सकता है।

करगिल में ही इसका ट्रेलर रिलीज किया गया। गिला की जीत के लिए 22 हो गए हैं और वरुणा आडवाणी और सल्यूशन करेक्शन ने देश के वीर के बीच इस तरह के जीत हासिल किए हैं। ट्रेलर में उस वक्त के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भी झलक दिखने को मिलती है।

रौंगटे संवाद संवाद
में सिद्धार्थ त्रा एक-एक-एक डायलॉग रौंगटे स्टे कर रहे हैं। मैं️️मैं️मैं️मैं️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️I ये डकैती के अंदर ही अंदर घुसेड़ की आवाज उठती है।

देश के बीच का तड़का
फिल्म निर्माण ने भी किया है और करण ने देश भक्ति की दोज के बीच का तड़का है। देश धाकड़ के डायलॉग्स में खेला जाने वाला रंग भी इतना ही है। ।

बॉलीवुड का साक्षात्कार-

सिद्धार्थ का अबतक का काल
कुल ऐसा लग रहा है कि ये सिद्धार्थ मल्होत्रा ​​के करियर का बेस्ट परफॉर्मेंस होगा। सिद्धार्थ पूरी तरह से कैप्टन बत्रा के अंदाज में दिख रहे हैं। ट्रेलर में जंग के जितने सीन दिखाए गए हैं, वो शानदार हैं और अपना असर छोड़ते हैं और ट्रेलर देखकर लगता है कि काश थोड़े से और डायलॉग सुनने को मिलते।

इस दिन
फिल्म 12 अगस्त… कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा रहा है। बात फैट बत्रा के शौर्य को थिएटर में देखने का मज़ा ही अलग है.. . . . . . . . . . . . . लेकिन उधर के है है है है है है है है है ।

ये भी आगे-

माहिका शर्मा: माहिका शर्मा ने कहा था- I

जावेद अख्तर न्यूज़: निम्नलिखित का पालन करें

.