November 27, 2022

समग्र शिक्षा – जिला कोरिया एवं श्री अरविंद सोसाइटी द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 पर विशेष वेबिनार का आयोजन’

राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 पर विस्तृत चर्चा- परिचर्चा और शिक्षकों को इसके सफल क्रियान्वयन के लिए तैयार करने हेतु समग्र शिक्षा – कोरिया और श्री अरविंद सोसाइटी द्वारा विशेष वेबिनार का आयोजन किया गया। ऑनलाइन सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में श्री संजय गुप्ता, जिला शिक्षा अधिकारी, कोरिया, छत्तीसगढ़ और श्री अजय मिश्रा, जिला मिशन समन्वयक, कोरिया, छत्तीसगढ़ रहे। विशिष्ट अतिथियों में श्री राजकुमार चाफेकर,  सहायक कार्यक्रम समन्वयक, कोरिया, छत्तीसगढ़ एवं श्री अशोक शर्मा, राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रमुख, रूपांतर, श्री अरविंद सोसाइटी शामिल हुए।
कार्यक्रम में शिक्षा अधिकारियों और शिक्षकों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री संजय गुप्ता ने कहा कि भावी चुनौतियों और आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 का सृजन किया गया है। “विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास पर बल देते हुए सामाजिक और आर्थिक समानता को स्थापित करना नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विशेष बिन्दुओं में से एक है। हमारा प्रयास है कि सभी स्तर पर शिक्षकों को नीति समझ में आए और वे इसे सफलतापूर्वक क्रियान्वित कर पाएं। हमें हर्ष है कि श्री अरविंद सोसाइटी शिक्षकों तक राष्ट्रीय शिक्षा के नीति के हर पहलू को विस्तार से पहुंचाने के लिए कार्य कर रही है।”   
कार्यक्रम में अन्य मुख्य अतिथि श्री अजय मिश्रा ने नीति के मुख्य बिंदुओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति से हमें सकारात्मक परिवर्तन की आशा है। “हालांकि नई शिक्षा नीति के प्रभाव को देखने में हमें समय लग सकता है, लेकिन इसका लाभ विद्यार्थियों और शिक्षकों को अवश्य मिलेगा। इस नीति के क्रियान्वयन के लिए यह महत्वपूर्ण है कि शिक्षक अपनी भूमिका को समझें और अपना योगदान प्रदान करें। इस नीति से प्रगतिशील समाज का आधार मजबूत होगा।” साथ ही मुख्य अतिथि ने श्री अरविंद सोसाइटी और एच.डी.एफ.सी. बैंक के सहयोग से चलाए जा रहे शिक्षा में शून्य निवेश नवाचार कार्यक्रम की भी सराहना की और शिक्षकों से संस्थान के कार्यों को सहयोग करने की अपील भी की।
इस अवसर पर शिक्षकों से वेबिनार में सक्रिय भागीदारी करने का आह्वाहन करते हुए श्री राजकुमार चाफेकर, सहायक कार्यक्रम समन्वयक, कोरिया, छत्तीसगढ़ ने कहा कि शिक्षा को आनंदमई, प्रासंगिक और अनुभवात्मक बनाना शिक्षकों का कर्तव्य है, इसके आवश्यक है कि वे नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में दिए गए निर्देशों का पालन करें और शिक्षा को नई रोचक बनाएं।
वेबिनार में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए श्री अरविंद सोसाइटी के राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रमुख श्री अशोक शर्मा ने कहा, “नई शिक्षा नीति विद्यार्थियों को अपनी स्वाभाविक प्रतिभा और गुणों को पहचानने का अवसर देती है। शिक्षकों का दायित्व है कि वे विद्यार्थियों को उनके आंतरिक गुणों को समझने और निखारने के अवसर प्रदान करें। महत्वपूर्ण बात यह भी है कि विद्यार्थियों को शिक्षा आनंदित और उत्साहित करे, उनके मन में विद्यालय आना बोझ न हो। इसलिए यह आवश्यक है कि शिक्षा की नींव रखने वाले प्राइमरी के शिक्षक नई शिक्षा नीति को विस्तार से समझें और क्रियान्वित करने के लिए अग्रसर हों।”
श्री अरविंद सोसाइटी के मास्टर ट्रेनर श्री धीरेन्द्र गौतम ने एन.ई.पी. 2020 पर विस्तृत प्रशिक्षण प्रदान किया, जिससे हजारों शिक्षकों को लाभ प्राप्त हुआ।

You may have missed