September 26, 2021

सरगुजा में हवाई सेवा शुरू होने से पूरे प्रदेश के विकास को मिलेगी गति : श्री बघेल

भूपेश बघेल ने कहा कि मां महामाया एयर पोर्ट के उन्नयन कार्य के शुभारंभ के साथ ही सरगुजा सहित पुरे उŸार छत्तीसगढ़ में एयर कनेक्टिवीटी के लिए हमारी सरकार लगातार काम कर रही है। हवाई सेवा शुरू होने से सरगुजा में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। हवाई सेवा केवल सरगुजा संभाग के लोगों का सपना ही नहीं बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ के लोगों का सपना है। सरगुजा में हवाई सेवाएं शूरू होने से अम्बिकापुर बलरामपुर, सूरजपुर कोरिया जशपुर का विकास तेज होगा ही पूरे प्रदेश के विकास को मिलेगी गति। मुख्यमंत्री श्री बघेल मंगलवार को विकास कार्यो के वर्चुअल भूमिपूजन एवं लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर सरगुजा जिले में करीब 248 करोड़ रूपए के 107 निर्माण एवं विकास कार्यों का वर्चुअल भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। इनमें 44 करोड़ रूपए की लागत से मां महामाया एयर पोर्ट के उन्नयन कार्य सहित 165.333 करोड़ के 82 कार्यो का भूमिपूजन तथा 82.585 करोड़ के 25 कार्यो का लोकार्पण कार्य शामिल हैं। मॉ महामाया एयर पोर्ट के उन्नयन कार्य हेतु मुख्यमंत्री निवास कार्यालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर जिले प्रभारी मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस.सिंहदेव, गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत सहित अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हवाई सेवा शुरू होने से पर्यटन को गति मिलेगी और रायपुर बनारस का सफर भी आसान हो जाएगा। सरगुजा से लेकर पूरे प्रदेश में पर्यटन स्थल की कमी नहीं है। आने वाले दिनों में पर्यटन उद्योग हमारी नई ताकत बनेगा। उन्होंने कहा कि नये पर्यटन स्थलों को जोड़ने के लिए नई सड़कों का निर्माण तथा सुविधाओं का विस्तार तेजी से किया जा रहा है। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए रामवन गमन पर्यटन परिपथ विकास योजना शुरू की गई। पहली चरण में 9 पर्यटन केन्द्रों के विकास कार्य प्रारंभ किए गए है। उन्होने कहा कि अब छत्तीसगढ़ के किसान कर्ज की बात नहीं करते बल्कि और ज्यादा लाभ कैसे कमा सकते है इस बारे में बात करते है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के क्रांति को देखते हुए इसे और विस्तार कर दिया गया है। नए प्रावधान के तहत जिन किसानों ने पीछले वर्ष धान की खेती ली थी उन किसानों के द्वारा धान को छोड़कर अन्य फसल लेने पर या वृक्षारोपण करने पर उन्हे धान का मिलने वाला आदान सहायता से अधिक आदान सहायता मिलेगी। इस नए प्रावधान को लेकर किसानों ने अच्छा उत्साह दिखाया है। इसका लाभ उठाने के लिए हर जिले में किसान आगे आ रहे है । मुख्यमंत्री ने कहा कि गोठानों को स्व. सहायता की बहने छोटे-छोटे उद्योग में बदल दिया है। जैविक खाद की उत्पादन से लेकर सब्जी उत्पादन, शहद उत्पादन, साबुन निर्माण काम भी कर रही है। आज हमारे बहनों के चेहरे पर अलग तरह की आत्मविश्वास झलक रही है। सुदंर, सुपोषित, स्वस्थय और सम्पन्न छत्तीसगढ़ के निर्माण के लिए काम करने का हमारा लक्ष्य है। इसलिए हमने गढ़बो नवा छŸाीसगढ़ का संकल्प लिया है।
प्रभारी मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने कहा कि छŸाीसगढ़ मॉडल के नये स्वरूप में काम हो रहा है जिसकी चर्चा पूरे देश में चल रही है। हमारी सरकार ने पिछले 15 सालों से  रूकी हुई विकास की गति को आगे बढ़ाने का काम किया है। सभी क्षेत्रों तथा सभी वर्गाें के लिए समान अवसर उपलब्ध हो रहे हैं जिससे हर वर्ग के लोगों में खुशहाली है।  हर छत्तीसगढ़िया खुश रहे इस दिशा में सरकार काम कर रही है।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस.सिंहदेव ने कहा कि सरकार गठन के बाद पहली कैबिनेट की बैठक में किसानों की ऋण माफी एवं समर्थन मूल्य में बढ़ोŸारी के एतिहासिक फैसले लेकर किसान हितैषी सरकार होने का मजबूत इरादा पेश किया। इसके साथ ही सड़क, पानी, बिजली स्वास्थ्य सहित विकास की कई क्षेत्रों में नए-नए कार्य किए जा रहा है। छŸाीसगढ़ सरकार के हर काम से लोगांे की उम्मीद बढ़ी हुई है। उन्होंने कहा कि दरिमा हवाई पट्टी के नामकरण और उसके उन्नयन प्रारंभ होने से सरगुजा में विकास की रफ्तार आगे बढे़गी। दरिमा एयर पोर्ट में जहाज उतरने के बाधाओं को दूर किया जा रहा है। आने वाले समय में हवाई सुविधा का विस्तार होने से लोगों को लाभ मिलेगा।