September 20, 2021

राज्य योजना आयोग द्वारा ’स्वास्थ्य, पोषण एवं खाद्य सुरक्षा’ पर गठित टॉस्क फोर्स की बैठक में सदस्यों ने दिए महत्वपूर्ण सुझाव

स्वास्थ्य, पोषण एवं खाद्य सुरक्षा के संबंध में राज्य योजना आयोग को सुझाव देने के लिए गठित टॉस्क फोर्स की बैठक में सदस्यों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। योजना भवन नवा रायपुर में आज आयोजित बैठक में टॉस्क फोर्स के अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री राजेश तिवारी ने कहा कि राज्य योजना आयोग द्वारा राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में व्यवहारिक सुझाव एवं अनुशंसाएं प्रदान करने 14 टॉस्क फोर्स गठित किए गए है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य, पोषण एवं खाद्य सुरक्षा संबंधित विषय पर सुझाव देने के लिए प्रदेश एवं देश के लब्ध प्रतिष्ठित विषय विशेषज्ञों, सामाज सेवियों, जनप्रतिनिधियों एवं विभागीय अधिकारियों को शामिल किया गया है।
श्री राजेश तिवारी ने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता और सुपोषण के लिए स्थानीय स्तर पर उपलब्ध पोषक सामग्री का अधिकाधिक उपयोग तथा प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने में जनप्रतिनिधियों को शामिल करने की सलाह दी, ताकि राज्य के स्वास्थ्य पोषण एवं खाद् सुरक्षा के संसूचकों में पर्याप्त उपलब्धि प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि टॉस्क फोर्स एवं टॉस्क फोर्स के अंतर्गत गठित वर्किंग ग्रुप द्वारा परीक्षण, गहन चिन्तन, विचार-विर्मश के बाद जो सुझाव-अनुशंसा प्राप्त होंगे। उन्हें समेकित कर राज्य योजना आयोग को प्रस्तुत किया जाएगा।
बैठक मे टॉस्क फोर्स के सदस्य श्री बिराज पटनायक ने कहा कि स्वास्थ्य व्यवस्था एवं अर्थव्यवस्था आपस में संबंधित है। उन्होंने मितानिनों की सेवाएं को अत्यंन्त आवश्यक बताते हुए उनकी सेवाओं को अनवरत रूप से और प्रभावी रूप से क्रियान्वित करने पर जोर दिया। श्री पटनायक ने कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने हेतु स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए आवश्यक कदम उठाने की सलाह दी। टॉस्क फोर्स के सदस्य डॉ. दिनेश मिश्रा ने कोविड वेक्सीनेशन की पहुंच व ग्राह्यता हेतु जागरूकता के लिये प्रयास किये जाने पर जोर दिया। उन्होंने स्वास्थ्य क्षेत्र में आवश्यकतानुसार जिलेवार कार्यक्रम बनाने तथा तहसील स्तर पर ब्लड बैंक के संचालन पर की आवश्यकता पर भी जोर दिया।
टॉस्क फोर्स के सदस्य डॉ. राकेश गुप्ता ने स्वास्थ्य क्षेत्र को सुदृढ़ बनाने अधोसंरचना, मानव संसाधन, तकनीकी दक्षता की आवश्यकता को प्राथमिकता से पूरा करने सलाह दी। उन्होंने स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रभावी जागरूकता लाने के लिए प्राथमिक स्कूल के पाठ्यक्रम में जानकारी समावेश की आवश्यकता बतायी। बैठक में सदस्य डॉ. सुलक्षणा नंदी ने स्वास्थ्य क्षेत्र में निःशुल्क सेवा प्रदाय की आवश्यकता पर जोर देते हुए स्वास्थ्य सेवा प्रदाय प्रणाली को सुदृढ़ करने की आवश्यकता बतायी। टॉस्क फोर्स की बैठक में संयोजक के रूप में स्वास्थ्य विभाग, खाद्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से विभागीय कार्यक्रमों-योजनाओं की जानकारी दी।