September 20, 2021

रंग ला रही छत्तीसगढ़ में महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की पहल

छत्तीसगढ़ में पर्यटन से महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की पहल रंग ला रही है। सूरजपुर जिले के केनापारा पर्यटन केन्द्र में फ्लोटिंग रेस्टोरेंट के साथ बोटिंग की सुविधा उपलब्ध कराकर राजगार के नए अवसर सृजित किये गए हैं।  इनमें महिलाओं को बोटिंग सहित अन्य आजीविका संबंधी गतिविधियों से जोड़ा गया है।
    सूरजपुर जिले में विकास कार्यों के लोकार्पण और भूमिपूजन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से बात करते हुए शिवशक्ति महिला ग्राम संगठन की सुश्री उषा रजक ने बताया कि समूह की महिलाएं केनापारा पर्यटन स्थल में बोटिंग का काम करती हैं। उनके संगठन में  286 महिलाएं जुड़ी हैं। उन्हें बोटिंग से अब तक 16 लाख 71 हजार 190 रूपए की आमदनी हुई है। समूह की प्रत्येक महिला को हर माह 7 हजार की आमदनी हो जाती है। सुश्री उषा ने बताया कि वह भी बोट चलाती हैं और मुख्यमंत्री श्री बघेल के वहां प्रवास के दौरान उन्हें भी बोटिंग कराई थी। इसके साथ ही सुश्री उषा ने मुख्यमंत्री श्री बघेल  को पुनः भ्रमण के लिए आने का निवेदन किया। मुख्यमंत्री श्री बधेल ने मुख्यमंत्री ने सूरजपुर कलेक्टर से पर्यटन स्थल में बोटिंग की व्यवस्था के साथ ठहरने के लिए हट बनवाने के लिए कहा। कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि केनापारा को विकसित करने की रूपरेखा तैयार कर ली गई है और उसके अनुरूप केनापारा पर्यटन स्थल को विकसित किया जाएगा।