September 26, 2021

मरकाम ने ऑटो में बैठकर, विकास ने बाइक-सिलेंडर घसीटकर जताया विरोध

देश भर में पेट्रोल, तेल और रसोई गैस की बढ़ती कीमतों को लेकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विरोध प्रदर्शन कर रही है. पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कोंडागांव में महंगाई का विरोध करने ऑटो से गांव-गांव पहुंचे. केंद सरकार की जन विरोधी नीतियों को जन-जन पहुंचाया. रायपुर में संसदीय सचिव और विधायक विकास उपाध्याय ने बाइक घसीटकर महंगाई का विरोध जताया.

राजधानी रायपुर में सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं ने भी प्रदर्शन किया. कांग्रेस के कार्यकर्ता बाइक और रसोई गैस की खाली टंकी को घसीटते हुए घड़ी चौक से भाजपा कार्यालय पहुंचे. बीजेपी के नेताओं को सौंपने वाले थे, लेकिन लालगंगा के पास पुलिस बल ने प्रदर्शनकारियों को रोक लिया. वहीं कांग्रेस नेताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ ‘‘मस्त राम मस्ती में आग लगे बस्ती में’’ के नारे लगाए.

उद्योगपतियों को फायदा पहुंचा रही केंद्र

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि बेतहाशा महंगाई बढ़ने के विरोध में प्रदेश के गांव-गांव में ऑटो से पहुंचकर विरोध जताया गया. ऑटो के जरिए लोगों को बताया जा रहा है कि मोदी है, तो मुमकिन है का नारा दिया गया था. आज मोदी है, तो नामुमकिन है. केंद्र में बैठी मोदी सरकार महंगाई बढ़ा रही है. चंद उद्योगपतियों को फायदा पहुंचा रही है. पेट्रोल-डीजल, सिलेंडर समेत सभी चीजों की महंगाई बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि 2014 में मोदी ने कहा था कि बहुत हो गई महंगाई की मार, अबकी बार मोदी सरकार. हमारी मांग है कि 7 वर्षों बाद बहुत हो गई महंगाई की मार, बस करो मोदी सरकार.

रमन ने साइकिल चलाकर जताया था विरोध

विकास उपाध्याय ने कहा कि एक समय वो था जब डाॅ. रमन सिंह पूरे मंत्री मण्डल के साथ महज कुछ पैसे पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर सायकल चलाते विरोध किया करते थे, लेकिन आज बढ़ोतरी 100 रूपए तक पहुंच गई है. इससे केन्द्र सरकार 26 लाख करोड़ मुनाफा कमा चुकी है. दूसरी तरफ देश की जनता लाॅकडाउन से लेकर संक्रमण काल में जूझ रहे आर्थिक तंगी से बेहाल है. उस स्थिति में आ गई है कि बाइक को घसीटने की नौबत पड़ रही है. जिसका जिम्मेदार भाजपा है.