September 20, 2021

परीक्षा से वंचित हजारों नर्सिंग स्टाफ ने बूढ़ा तालाब धरना स्थल में देर रात तक किया प्रदर्शन

छत्तीसगढ़ राज्य में बीएससी नर्सिंग स्टाफ की लगातार दो वर्षों से परीक्षा नहीं हो पा रही है। कोराना काल की वजह से बार-बार लग रहे लॉकडाउन की वजह से उनकी परीक्षाएं नहीं हुई हैं। इससे इन विद्यार्थियों का भविष्य अब अंधकार में नजर आने लगा है। स्वास्थ्य मंत्री के आश्वासन के बाद भी संचालक स्वास्थ्य सेवाएं द्वारा परीक्षा आयोजित न करने से उनके भविष्य अंधकार में होने सेवा और रोजी-रोटी, जीवन की प्रगति बाधित होने की आशंका है।

सीएम हाउस का घेराव करने निकले छात्र-छात्राओं को पुलिस ने बूढ़ातालाब के पास रोका। घंटों झूमाझटकी के बाद छात्र- छात्राओं के सरकार विरोधी नारे लगाए। इस मौके पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के नेता प्रदीप साहू ने कहा छत्तीसगढ़ की सरकार छात्र विरोधी है।

छत्तीसगढ़ का युवा पढ़ लिखकर छत्तीसगढ़ छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा करना चाहता है, लेकिन भूपेश सरकार छत्तीसगढ़िया युवाओँ को अनपढ़ बना कर रखना चाहती है। दो साल से जानबूझकर नर्सिंग छात्र छात्राओं का परीक्षा आयोजित नहीं कर सरकार इन छात्र छात्राओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही जिसे हम बर्दाश्त नहीं करेंगे।