BJP किसान मोर्चा ने कहा- 9 लाख क्विंटल धान हो गया खराब, किसानों की मेहनत को बर्बाद करना राष्ट्रीय अपराध

छत्तीसगढ़ भाजपा किसान मोर्चा ने धान मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस की. इस दौरान बीजेपी किसान मोर्चा ने धान की बर्बादी को लेकर सरकार को जमकर घेरा. उन्होंने कहा कि लापरवाही के कारण प्रदेश में 9 लाख क्विंटल धान सड़ गया. बालोद ज़िले में चार करोड़ का धान पूरी तरह से ख़राब  हुआ. इसी तरह अन्य जिलों में धान खराब हो गया. साथ ही बीजेपी ने सरकार पर धान गायब होने को लेकर भी भ्रष्टाचार का आरोप लगाया.

BJP किसान मोर्चा ने जारी किया जांच रिपोर्ट

बीजेपी ने कहा कि पिछले छह महीने से धान सोसायटी में धान बर्बाद हो रहा है. खुले आसमान के नीचे रखे धान की ओर सरकार ध्यान नहीं दे रही है. बेमेतरा जिला में 10 करोड़ का सीधा नुक़सान हुआ. रायपुर ज़िले में 60 करोड़ का धान पूरी तरह बर्बाद हो गया. कवर्धा ज़िले में 2 लाख क्विंटल धान बर्बाद हुआ है, जिससे 400 कर्मचारियों ने सामूहिक इस्तीफ़ा दिया है. सभी ज़िलों से जांच दल ने सर्वे क़र रिपोर्ट जारी किया है.  साथ ही कहा कि 9 लाख क्विंटल धान सड़ गया. किसानों की मेहनत को बर्बाद करना राष्ट्रीय अपराध है.

सोसायटियों में खुले में रखा है धान

BJP किसान मोर्चा ने कहा कि प्रदेश में पिछले 6 महीनों से धान सोसायटियों में खुले में रखा हुआ है, जिसके चलते करोड़ों रूपयों का धान सुखत और वर्षा के कारण बर्बाद हुआ, जिसके चलते प्रदेश भाजपा के निर्देश से प्रदेश अध्यक्ष भाजपा किसान मोर्चा श्याम बिहारी जायसवाल ने प्रत्येक जिले में भाजपा किसान मोर्चा ने जांच दल का गठन किया था. सभी जिलों में जांच दल ने 19, 20, 21, जून को सोसायटियों में जाकर निरीक्षण करके धान के संबंध में वास्तिविक रिपोर्ट दी है.  जांच दल के प्रभारी गौरीशंकर श्रीवास थे.